आम चर्चा

प्रदेश के कई इलाकों में बरसा पानी:छत्तीसगढ़ में फिर मानसूनी हलचल शुरू… अगले एक-दो दिन कई इलाकों में भारी बरसात के आसार

छत्तीसगढ़ में एक बार फिर मानसूनी गतिविधियां शुरू हो गईं हैं। छह दिन बाद मंगलवार को दोपहर बाद रायपुर सहित प्रदेश के कई इलाकों में पानी बरसा। जून में अच्छी बारिश के बाद जुलाई के पहले सप्ताह में अब तक मानसून थोड़ा कमजोर रहा है।

पिछले चार-पांच दिनों से मौसम साफ है। इस वजह से दिन का तापमान बढ़ गया। थोड़ी गर्मी भी महसूस होने लगी। वातावरण में नमी की वजह से उमस बेचैन कर रही है। मंगलवार को हालांकि शाम को बारिश भी हुई, लेकिन इतनी ज्यादा नहीं कि वातावरण की गर्मी को कम कर दे। अब अगले एक-दो दिन राज्य के ज्यादातर हिस्सों में हल्की से मध्यम तथा कुछ जगहों पर भारी बारिश के संकेत हैं।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार मंगलवार को बारिश की गतिविधियां फिर से सक्रिय हो गई हैं। समुद्र से नमी भी आने लगी है। रायपुर में शाम को तेज गर्जना के साथ बारिश हुई। इस दौरान करीब पांच मिमी पानी गिरा। माना एयरपोर्ट में भारी बारिश हो गई।

यहां पर करीब 60 मिमी तक पानी गिर गया। रायपुर के अलावा दिन में बिलासपुर और अंबिकापुर में भी हल्की बारिश हुई। पिछले 24 घंटे के दौरान बीजापुर, ओड़गी, भैरमगढ़ और बकावंड में 40 मिमी के आसपास पानी गिरा। लोहंडीगुड़ा, छिंदगढ़, बैकुंठपुर में 30 और मरवाही, तोकापाल, पोड़ी-उपरोड़ा, दंतेवाड़ा, बास्तानार में 20 मिमी बारिश हुई। अन्य कई जगहों पर हल्की वर्षा दर्ज की गई।

बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवात, इसलिए हो रही बारिश

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि एक चक्रवात उत्तरी आंध्रप्रदेश से सटे पश्चिमी-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर है। यह दक्षिण-पश्चिम की ओर झुका हुआ है। दिल्ली, अलीगढ़, हमीरपुर, प्रयागराज, डाल्टनगंज, बालासोर से दक्षिण-पूर्व की ओर मध्य बंगाल की खाड़ी तक है। इन सिस्टम की वजह से समुद्र से नमी आने लगी है। प्रदेश में अगले एक-दो दिन राज्य के ज्यादातर जगहों पर वर्षा के संकेत हैं।

दिन का पारा सभी जगह ज्यादा
मंगलवार को राजधानी रायपुर में दिन का तापमान 37.2 डिग्री तक पहुंच गया। यह सामान्य से चार डिग्री तक अधिक था। इसी तरह रात में भी पारा 28.6 डिग्री रिकार्ड किया गया। यह भी नार्मल से तीन अधिक है। बिलासपुर, जगदलपुर, दुर्ग और राजनांदगांव में पारा 34 से 38 डिग्री के बीच रहा। राजनांदगांव में तापमान सामान्य से 7 डिग्री अधिक था।
अन्य जगहों पर यह सामान्य से तीन से चार डिग्री अधिक है। प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान रायगढ़ में 38.4 डिग्री रिकार्ड किया गया।

मौसम विभाग ने बताया कि 5 जुलाई को प्रदेश के ऊपरी हिस्सों में कई जगहों पर बारिश के आसार हैं। दुर्ग, राजनांदगांव, गरियाबंद, कांकेर और बस्तर के जिलों में अनेक स्थानों पर बारिश होने का अंदेशा जताया गया है। 6 और 7 जुलाई को भी पूरे प्रदेश में बारिश होने की संभावना है।

इन शहरों में गिर सकती है बिजली
मौसम विभाग की ओर से दी गई ताजा जानकारी के मुताबिक अब 5 जुलाई को कवर्धा, मुंगेली, राजनांदगांव, कांकेर, कोंडागांव, बस्तर, सुकमा बीजापुर जैसे शहरों में बिजली गिरने की संभावना है। कांकेर, राजनांदगांव बस्तर के जिलों में भारी बारिश की चेतावनी मौसम विभाग ने जारी की है।

1-6 जुलाई के लिए जारी की गई चेतावनी के मुताबिक रायपुर, बलोदा बाजार, मुंगेली, महासमुंद, गरियाबंद, धमतरी, बालोद, दुर्ग, राजनांदगांव में बिजली गिरने की संभावना है।

2-7 जुलाई को रायपुर, बलोदा बाजार, सरगुजा, सूरजपुर, कोरबा, महासमुंद बस्तर, सुकमा में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button